Fat Burners vs. L-Carnitine for Fat loss in hindi

Fat Burners vs. L-Carnitine for Fat loss in hindi

दोस्तों इस article में हम fat burners और l carnitine में difference जानेंगे। Fat burners में natural ingredients का mixture होता है और यह बॉडी का metabolism rate बड़ा देते हैं जिससे आपको मदद मिलती है weight को तेज़ी से कम करने में। 




Normally, fat burners में extracts of green tea, caffeine, garcinia cambogia, grapefruit और cayenne pepper होते हैं। 


Fat Burners अनचाही भूख को control करते है और उनसे carbohydrates को fats में convert नहीं होने देते और इन carbohydrates को burn करते हैं एनर्जी के लिए। 


Fat Burner अकेले काम नहीं करते इनके साथ आपको disciplined डाइट और वर्कआउट भी follow करना पड़ता है। दूसरी तरफ l-carnitine मसल्स बनाने वाले लोगों को मदद करता है जब कोई ripped होने की कोशिश कर रहा हो। 


जब भी आप वर्कआउट करते हैं, long chain fatty acids free होते हैं पर वो mitochondria तक नहीं पहुँचते अगर sufficient l-carnitine नहीं हो। 


Carnitine को supplement करने से वो long chain fatty acids burn हो जाते है fuel के लिए muscle glycogen की जगह। Carnitine helpful है वर्कआउट का समय बढ़ाने के लिए क्यूंकि यह lactic acid का muscles में बनना कम करता है। 




और जब आप कम fatigued feel करते हैं तो आप ज़्यादा duration तक एक्सरसाइज कर सकते हैं जो primary condition है muscle building के लिए। 


तो दोस्तों आप अपनी ज़रुरत के हिसाब से fat burner और carnitine में से एक use कर सकते हैं। सही supplement आपके वर्कआउट और डाइट प्लान को complement करेगा। तो इन्हें सही तरीके से चुनें और अच्छे से वर्कआउट करें तभी आपको नतीजे मिलेंगे। 


Thanks for Reading.

1 comment:

Powered by Blogger.